होली का तोहफा : महिलाओं को होली पर मिलेंगे फ्री रसोई गैस सिलेंडर - STB Exam

होली का तोहफा : महिलाओं को होली पर मिलेंगे फ्री रसोई गैस सिलेंडर

यूपी सरकार ने राज्य का वित्तीय सत्र 2023-24 के लिए बजट पेश किया है। इसमें सभी वर्गों के लोगों का ध्यान रखा गया है। इस बजट में बहुत सारी घोषणाएं की गईं हैं और बजट को विस्तृत रूप दिया गया है। इसमें महिलाओं और बेटियों के लिए भी कई लाभकारी घोषणाएं की गईं हैं जिनमें सबसे बड़ी घोषणा महिलाओं को फ्री में गैस सिलेंडर देने की है। योगी सरकार ने होली के त्योहार का तोहफा देते हुए राज्य की महिलाओं को होली पर फ्री गैस सिलेंडर दिए जाने का ऐलान किया है। योगी सरकार की बजट घोषणा के अनुसार राज्य सरकार अब होली और दीवाली के त्योहार पर महिलाओं को फ्री में गैस सिलेंडर उपलब्ध कराएंगी। इसके लिए बजट में 3047 करोड़ 48 लाख रुपए की व्यवस्था की गई है। सरकार की इस योजना का लाभ राज्य की करीब 1.65 करोड़ महिलाओं को मिल सकेगा। इसके लिए सरकार पर करीब 3000 करोड़ का वित्तीय भार आएगा।

 

Join Telegram Group

किस योजना के तहत महिलाओं को मिलेंगे फ्री में गैस सिलेंडर

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार राज्य की महिलाओं को फ्री गैस सिलेंडर का लाभ केंद्र सरकार की उज्जवला योजना के तहत दिया जाएगा। इस योजना के तहत महिलाओं को पहला सिलेंडर होली में दिया जाएगा और दूसरा सिलेंडर दीवाली पर उपलब्ध कराया जाएगा। इस प्रकार हर साल सरकार महिलाओं को 2 रसोई गैस सिलेंडर मुफ्त में देगी। सरकार की इस घोषणा से महिलाओं में खुशी की लहर है और उन्हें होली पर फ्री सिलेंडर मिलने का बेसब्री से इंतजार है।

ये भी पढ़े :-  PM Kisan 13th की क‍िस्‍त से पहले कृष‍ि मंत्री ने दी बड़ी खुशखबरी, फैसला सुनकर खुशी से झूमने लगे क‍िसान

कब से दिए जाएंगे फ्री गैस सिलेंडर

जानकारी के लिए बता दें की उत्तर प्रदेश के खाद्‌य व रसद विभाग की ओर से फ्री में गैस सिलेंडर देने का प्रस्ताव विभाग को भेज दिया गया है। इस पर सरकार की ओर से बजट मिलने के बाद ही फ्री गैस सिलेंडर का वितरण शुरू किया जाएगा। उम्मीद है कि होली या इसके आसपास फ्री गैस सिलेंडर का वितरण सरकार की ओर से किया जा सकता है।

इस समय क्या है यूपी में रसोई गैस सिलेंडर की कीमत

रसोई गैस सिलेंडर की कीमतें दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही हैं। इस समय एलपीजी रसोई गैस सिलेंडर की कीमत लखनऊ में करीब 1090 रुपए के आसपास है। इसमें अन्य चार्ज शामिल नहीं किए गए हैं। बता दें कि अलग-अलग शहरों के हिसाब से वहां लगने वाले चार्ज के आधार पर रसोई गैस सिलेंडर की कीमतें अलग-अलग हो सकती हैं। गैस कंपनियों की ओर से गैस की कीमतों में हर रोज बदलाव किया जाता है।

क्या है प्रधानमंत्री उज्जवला योजना

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना केंद्र सरकार की ओर से चलाई गई योजना है। इस योजना की शुरुआत 1 मई 2016 को हुई थी। इस योजना के जरिये देश की एपीएल, बीपीएल और राशन कार्ड धारक महिलाओं को फ्री में एलपीजी गैस कनेक्शन उपलब्ध कराया जाता है। इस योजना का संचालन केंद्र सरकार के पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय द्वारा किया जाता है। उज्जवला योजना का लाभ 18 वर्ष से अधिक उम्र की महिलाओं को दिया जाता है। इस योजना के तहत देश के करीब 8 करोड़ घरों को मुफ्त गैस कनेक्शन दिए जाने का लक्ष्य है।

ये भी पढ़े :-  E Shram Card Balance Status Check 2023: घर बैठे चेक करे अपना ई श्रम कार्ड बैलेंस, ये है पूरी प्रक्रिया

 

महिलाओं और बेटियों के लिए यूपी सरकार की अन्य बजट घोषणाएं

मुफ्त रसोई गैस सिलेंडर की घोषणा के अलावा भी राज्य सरकार ने महिलाओं के लिए कई अन्य लाभकारी योजनाओं की घोषणाएं भी की हैं। इसी के साथ ही राज्य की बेटियों के लिए भी कई महत्वपूर्ण घोषणाएं की गई हैं, ये घोषणाएं इस प्रकार से हैं

  • विशेष रूप से ग्रामीण महिलाओं के लिए चलाई जा रही महिला सामर्थ्य योजना बजट 2023-24 में 83 करोड़ रुपए की राशि खर्च करने का प्रस्ताव रखा गया है। बता दें कि महिला सामर्थ्य योजना के तहत महिला स्वयं सहायता समूहों का गठन किया जाता है और महिलाओं को रोजगार से जोड़ा जाता है।
  • यूपी में निराश्रित विधवाओं के भरण-पोषण अनुदान योजना के तहत वर्तमान में करीब 32 लाख 62 हजार निराश्रित महिलाओं को पेंशन दी जा रही है। इसके लिए वित्तीय बजट 2023-24 के लिए 4032 करोड़ रुपए की व्यवस्था का प्रस्तावित की गई है।
  • प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत गर्भवती महिलाओं एवं धात्री माताओं को लाभान्वित किया जा रहा है। इसके लिए प्रदेश में जननी सुरक्षा योजना, जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम और बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम आदि संचालित किए गए हैं।
  • प्रदेश में नियमित टीकाकरण कार्यक्रम के अंतर्गत अक्टूबर 2022 तक 95 प्रतिशत बच्चों को भी टीका लगाया गया। वहीं मिशन इंद्र धनुष के तहत 36 लाख 82 हजार से अधिक बच्चों का टीकाकरण किया गया। इसके अलावा 10 लाख 31 हजार से अधिक गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया गया।
  • प्रदेश की कानून एवं शांति व्यवस्था में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के उद्‌देश्य से 03 महिला पीएसी बटालियन का गठन किया जा रहा है।
  • इसके अलावा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए आयुष्मान भारत योजना के तहत स्वास्थ्य बीमा के लिए 25 करोड़ रुपए की व्यवस्था प्रस्तावित की गई है।
ये भी पढ़े :-  E Shram Card ₹200000 का फायदा कैसे मिलता है, करें यह काम?

यूपी बजट 2023 में बेटियों के लिए ये की गईं हैं घोषणाएं

  • राज्य में बेटियों के लिए चलाई जा रही मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत योजना की लाभार्थी लड़कियों को 15000 रुपए तक की राशि दी जा रही है। वित्तीय वर्ष 2023-2024 में इसके लिए 1050 करोड़ रुपए की व्यवस्था प्रस्तावित है।
  • मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के लिए बजट में 600 करोड़ रुपए की व्यवस्था प्रस्तावित की गई है। इस योजना के तहत सभी वर्गों की बेटियों की शादी के लिए सरकार से अनुदान दिया जाता है। इस योजना के तहत अन्य पिछड़ा वर्ग के निर्धन व्यक्तियों की बेटियों की शादी अनुदान योजना के लिए 150 करोड़ रुपए की व्यवस्था प्रस्तावित की गई है।
  • यूपी में रानी लक्ष्मीबाई महिला एव बाल सम्मान कोष योजना के तहत जघन्य हिंसा की शिकार महिलाओं अथवा बालिकाओं को आर्थिक एवं चिकित्सकीय सहायता प्रदान की जा रही है। इस योजना के तहत बजट में वित्तीय वर्ष 2023-2024 के लिए 56 करोड़ रुपए की व्यवस्था प्रस्तावित की गई है।
  • इसके अलावा राज्य में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के तहत कन्या भ्रूण हत्या की रोकथाम के लिए जागरूकता कार्यक्रम संचालित किए जा रहे है। यह योजना प्रदेश के 71 जनपदों में संचालित की जा रही है। आगे भी ये योजना यथावत जारी रहेगी।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *